November 28, 2021

खाद्य मंत्री भगत ने नवीन धान उपार्जन केन्द्र का किया शुभारंभ : किसानों को धान विक्रय में होगी सहूलियत

Spread the love

रायपुर. खाद्य मंत्री एवं राजनांदगांव जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने आज छुईखदान विकासखंड के ग्राम ठाकुरटोला में नवीन धान उपार्जन केन्द्र का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने ग्राम ठाकुरटोला में छात्रावास खोलने की घोषणा की। मंत्री श्री भगत ने कार्यक्रम में किसानों को मशरूम बीज और स्वसहायता समूह की महिलाओं को साड़ी वितरण किया गया।

प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि ठाकुरटोला में नए धान खरीदी केन्द्र खुलने से अब किसानों को असानी होगी। वह अपने गांव के पास के केन्द्र ठाकुरटोला में धान का विक्रय कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि जनता को सुविधाएं सुलभ करना सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल स्वयं किसान हैं और उन्हें अन्नदाता किसानों की समस्याएं मालूम है। मुख्यमंत्री किसानों को हरसंभव मदद एवं सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ ही उनकी समस्याओं का तत्परता से निदान कर रहे है। किसानों को लाभ दिलाने और कृषि को प्रोत्साहित करने के लिए कर्जमाफी, सिंचाई कर की माफी, बिजली बिल हाफ और समर्थन मूल्य में धान खरीदी की जा रही है। शासन द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किसानों को 9 हजार प्रति एकड़ आदान सहायता राशि दी जा रही है।

के ग्राम ठाकुरटोला में नवीन धान उपार्जन केन्द्र का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने ग्राम ठाकुरटोला में छात्रावास खोलने की घोषणा की। मंत्री श्री भगत ने कार्यक्रम में किसानों को मशरूम बीज और स्वसहायता समूह की महिलाओं को साड़ी वितरण किया गया।

मंत्री श्री भगत ने कहा कि जनहित में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा कई योजनाएं संचालित की जा रही है। इसका लाभ लोगों को मिल रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने तेंदूपŸाा का मूल्य 2500 रूपए प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर 4000 रूपए प्रति मानक बोरा किया है। वर्तमान में 52 प्रकार के वनोपज की खरीदी शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर की जा रही है। सभी वर्ग के नागरिकों के लिए राशन कार्ड बनाए गए है। कोविड-19 संक्रमण के दौरान शासन ने इलाज, दवाई, भोजन की व्यवस्था सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई। जरूरतमंदों को निःशुल्क चावल वितरण किया जा रहा है। राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन किसान मजदूर न्याय योजना के माध्यम से भूमिहीन मजदूर किसानों को प्रतिवर्ष 6 हजार रूपए अनुदान सहायता की राशि प्रावधान किया गया है। इस मौके पर उन्होंने आवश्यकता अनुसार स्कूलों का मरम्मत कराए जाने के निर्देश दिए।

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री नवाज खान ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल किसान, आदिवासी, महिलाओं और श्रमिकों के लिए कार्य कर रही है। शासन द्वारा किसानों को आगे बढ़ाने के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। स्वसहायता समूह के साढ़े 12 हजार करोड़ रूपए कर्ज माफी किया गया है।

उल्लेखनीय है कि नवीन धान उपार्जन केन्द्र ठाकुरटोला सेवा सहकारी समिति पैलीमेटा से अलग करके बनाया गया है। नवीन धान उपार्जन केन्द्र ठाकुरटोला अंतर्गत 19 गांव शामिल हैं। जिसमें 1130 किसानों ने पंजीयन कराया है। पूर्व में पैलीमेटा के अंतर्गत 29 गांव शामिल थे। जिससे धान क्रय करने के लिए अधिक दबाव रहता था। नवीन धान उपार्जन केन्द्र के प्रारंभ होने से किसानों को सहूलियत होगी। अब पैलीमेटा में 10 गांव के 1262 किसान धान का विक्रय करेंगे। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती ममता पाल सहित जनप्रतिनिधि, अधिकारी एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।