November 28, 2021

रायपुर में तीन दिन के भीतर जमकर चले चाकू-छूरी

Spread the love

रायपुर | में इन दिनों गुटीय विवाद या आपसी रंजिश के दौरान चाकूबाजी की घटनाएं बढ़ गई हैं। इसका मुख्य कारण शहर में पुलिस का खौफ पूरी तरह से खत्म हो चुका है। बदमाश खुलेआम बेखौफ शहर की सड़कों पर निकलने वाले चल समारोह में और गाड़ियों में चाकू लेकर घूम रहे हैं। छोटी सी नाेक-झोंक पर चाकूबाजी की वारदात काे अंजाम दे रहे हैं।

बीती रात कोटा इलाके में तीन युवकों को और टिकरापारा में एक युवक पर चाकू से हमला के बाद जमकर हंगामा हुआ। शहर में बदमाशों ने पिछले तीन दिनों में शहर के चार थानों में बड़ी चाकूबाजी की घटनाओं को अंजाम देकर पांच युवकों को घायल और एक को मौत के घाट उतार चुके हैं। हालांकि, घटना के सभी आरोपित पुलिस की गिरफ्त में हैं।

जानलेवा हमला करने वाले दो आरोपित गिरफ्तार

प्रार्थी शिवम व उसके साथी अपने एक साथी का जन्मदिन मनाकर वापस आ रहे थे। शिवम व उसके साथी अजय यादव, आदित्य यादव एवं भूपेंद्र धृतलहरे कोटा कालोनी पानी टंकी के पास से गुजर रहे थे।उसी समय सचिन गौतम और नितेश गोड जो प्रार्थी एवं उसके साथियों के पूर्व परिचित है। दोनों ने प्रार्थी एवं उसके साथियों को कहां जा रहे हो कहकर अश्लील टिप्पणी की।

इसके बाद विवाद हो गया। नितेश और सचिन ने धारदार हथियार से वार कर तीनों को घायल कर दिया। दोनों आरोपितों के विरुद्ध धारा 294, 506बी, 323, 324, 307, 34 और 25,27 आर्म्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।पुलिस ने तत्काल पतासाजी कर आरोपितों को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्रवाई की। आरोपितों का जुलूस भी निकाला गया।

चाकू मारकर लूट की वारदात के तीन आरोपित गिरफ्तार

सिविल लाइन थाना क्षेत्र में 15 अक्टूबर की रात खालसा स्कूल के पास चाकू मारकर लूट की वारदात करने वाले तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सिविल लाइन पुलिस ने आरोपित सलाहुद्दीन और मो. शाहिद और रोशन सिंह को पकड़ा। घटना के संबंध में पूछताछ की गई।घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया। आरोपितों ने चाकूबाजी की वारदात की थी, वहीं से उनका जुलूस निकाला गया।

टिकरापारा में जनता कांग्रेस जोगी के कार्यकर्ता पर चाकू से हमला

रायपुर टिकरापारा थाना क्षेत्र में चाकूबाजी की घटना हुई। जनता कांग्रेस जोगी के कार्यकर्ता पर चाकू से हमला किया गया। इससे घायल हेमराज बंटी बंजारे को गंभीर चोट आई। घायल का इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। वहीं, मामले में फरार आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए आक्रोशित दुर्गा समिति के सदस्यों ने टिकरापारा थाने का घेराव कर जल्द से जल्द बदमाशों की गिरफ्तार करने की मांग की।