October 18, 2021

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में दो लाख की इनामी महिला नक्सली ढेर

Spread the love

सशस्त्र वर्दीधारी महिला नक्सली को मार गिराने में मिली सफलता

ग्राम झुरगीदादर के पास हुई मुठभेड़, 315 बोर की राइफल के साथ दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद

कवर्धा। तरेगांव जंगल क्षेत्र के ग्राम झुरगी दादर में रविवार की सुबह पुलिस और नक्सली मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में दो लाख रुपए की इनामी महिला नक्सली की मौत हो गई। वहीं कान्हा भोरमदेव कमेटी के विस्तार प्लाटून 3 के बाकी सदस्य जान बचाकर भाग निकले। घटना स्थल एवं महिला नक्सली शव के पास से 315 बोर की राइफल और 24 कारतूस बरामद हुआ है।

सर्चिंग पर निकली पुलिस टीम को देखते ही माओवादियों ने फायरिंग करना शुरू कर दिया। इसके बाद आत्मरक्षा के उद्देश्य से पुलिस के जवानों ने भी पोजिशन ले ली और नक्सलियों काे उन्हीं की भाषा में जवाब देने लगे। करीब आधे घंटे चली इस मुठभेड़ में एक महिला नक्सली की मौत हो गई। मारी गई नक्सली महिला की पहचान जुगनी के रूप में की गई है। मुठभेड़ के बाद पुलिस इलाके की सर्चिग में जुट गई। घटना स्थल से दैनिक उपयोग की वस्तुएं व अन्य सामग्री मिले है। पूरे ऑपरेशन को ज़िला पुलिस बल व राजनांदगांव की टीम ने अंजाम दिया है।  

शाम करीब 6 बजे सिटी कोतवाली में प्रेसवार्ता के दौरान अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दुर्ग रेंज दुर्ग हिमांशु गुप्ता ने बताया कि प्रतिबंधित नक्सली संगठन कान्हा भोरमदेव कमेटी के विस्तार प्लाटून 03 की तरेगांव जंगल, चिल्फी क्षेत्र में गतिविधियों की सूचना लगातार मिल रही थी। इसे देखते हुए 29 सितंबर को संभावित क्षेत्र में सर्चिंग के लिए पुलिस टीम भेजी गई। इस दौरान ग्राम धूमाछापर एवं सुरतिया के मध्य जंगल में पुलिस पार्टी एवं नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुआ। इस दौरान पुलिस को अपने ऊपर हावी होते हुए देखकर नक्सली घने जंगल एवं पहाड़ियों का फायदा उठाते हुए भाग निकले। पुलिस अधिकारी श्री गुप्ता ने बताया कि फायरिंग बंद हाेने के बाद घटनास्थल का सावधानी के नियमों का पालन करते हुए बारीकी से सर्च किया गया। तब वहां से एक मृत सशस्त्र वर्दीधारी अज्ञात महिला नक्सली का शव एवं पास से 315 बोर रायफल तथा मौके से भारी मात्रा में नक्सलियों की दैनिक उपयोग की सामग्री, नक्सल साहित्य, आदि बरामद करने में पुलिस पार्टी को सफलता मिली है।

पुलिस के हावी होने से भाग निकले नक्सली

नक्सलियों के जंगल में कैंप लगाकर ठहरे होने की सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और पुलिस टीम इलाके की सर्चिग के लिए निकल गई। ग्राम झुरगी दादर के पास पहुंचते ही वहां पहले से मौजूद नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। करीब आधे घंटे चले घटनाक्रम के बाद एक महिला नक्सली की मौत हो गई। पुलिस को हावी होते देख बाकी नक्सली घने जंगल और पहाड़ का फायदा उठाते हुए भाग निकले।  

पुलिस टीम को पुरस्कार देकर सम्मानित किया

इस कार्रवाई में पुलिस के सराहनीय कार्य और सफलता को देखते हुए पुलिस महानिदेशक छग डीएम अवस्थी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दुर्ग रेंज हिमांशु गुप्ता, उपपुलिस महानिरीक्षक राजनांदगांव रतनलाल डांगी ने पूरी टीम को बधाई दी है और श्री गुप्ता ने एक लाख रुपए के पुरस्कार से टीम को सम्मानित किया है।