September 17, 2021

देशप्रेम का अजीब जज्बा,बेजुबान मवेशियों को सब्जी और चावल खिला रहे ये माँ गोमती गौ सेवा समिति के युवा

Spread the love


भिलाई नगर। कोरोना वायरस ने पूरे देश में कोहराम मचा रखा है। लॉकडाउन की स्थिति में लोगों ने अपनों को घर में कैद कर रखा है। ऐसी स्थिति में घरों में बंद गरीबों की मदद के लिए तो सैकड़ों हाथ उठ रहे हैं, लेकिन सड़कों पर घूम रहे आवारा बेजुबान मवेशियों गाय, कुत्तों की ओर ध्यान किसी का नहीं है। लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे इसलिए इन मवेशियों को खाने-पीने के लाले पड़ने लगे हैं। ऐसी विषम परिस्थितियों में यदि इन मवेशियों की ओर किसी का ध्यान गया है तो वे हैं "मां गोमती गौ सेवा समिति" के जांबाज युवा। लॉकडाउन के बाद से ही ये युवा रोजाना ऑटो में भरकर हरी सब्जियां एवं पके चावल लेकर निकलते हैं। पटरीपार क्षेत्र के हर मोहल्ले, वार्ड की गलियों में ये घूमते हैं। जहां भी इन्हें झुंड में मवेशी दिखते हैं उन्हें सब्जियां एवं चावल खाने को देते हैं। इन युवाओं का दुर्भाग्य है कि अभी तक इन लोगों को आर्थिक रूप से सहयोग देने कोई आगे नहीं आया है। मां गोमती गौ सेवा समिति के ये जांबाज युवा हैं संजय साहू, पवन शर्मा, मोहित अग्रवाल और तोप बहादुर थापा। ये युवा रोजाना सुबह सब्जी मंडियों में पहुंचकर सब्जी खरीदते हैं। इंदू आईटी स्कूल के डायरेक्टर एस. एम. उमक ने इन युवाओं को सहयोग के रूप में वाहन उपलब्ध कराया। जिसमें ये युवा मंडी से सब्जी लेकर आते हैं। कई सब्जी विक्रेता इन्हें मदद भी करते हैं और मुफ्त में सब्जियां दे देते हैं। ये युवा इन सब्जियों को लेकर अपने घरों पर आते हैं और इनका परिवार इन सब्जियों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटता है। साथ ही कुत्तों को ध्यान में रखकर चावल भी पकाया जाता है। शाम को 7 बजे ये युवा एक ऑटो में सभी सब्जियां एवं पका चावल लेकर निकलते हैं। कातुलबोर्ड से ये शुरुआत करते हैं और बोगदा पुलिया, जामुल से होते हुए स्मृति नगर, जुनवानी, अवंतीबाई चौक, कोहका, रुंगटा कॉलेज, कुरूद चौक, कैलाश नगर, हाउसिंग बोर्ड होते हुए शांति नगर की एक-एक सड़क और गलियों में घूम घूम कर मवेशियों एवं कुत्तों को भोजन खिलाते हैं। रात 10 बजे तक ये युवा ऑटो से रोजाना 150 से 200 गाय एवं कुत्तों को भोजन खिला देते हैं। संजय साहू का कहना था कि गरीबों के लिए तो कई लोग सामने आए हैं लेकिन इन बेजुबान मवेशियों की मदद के लिए कोई आगे नहीं आ रहा। बावजूद वे लोग इस काम को पूरे जोश के साथ कर रहे हैं। यदि उन्हें कुछ लोगों का सहयोग मिल जाता तो वे इस काम को और बढ़ा सकते थे। उनका घूमने का दायरा भी बढ़ जाता। संजय साहू का कहना था कि यदि कोई सहयोग करना चाहता है तो उनके मोबाइल नंबर 877 096 5966 और 98274 91957 पर संपर्क कर सकता है। यह भी देशहित और देशसेवा या एक माध्यम है।