July 30, 2021

खेल की बेहतर अधोसंरचना उपलब्ध कराने सरकार संकल्पित, युवाओं का उत्साह देखकर खुशी महसूस कर रहा हूँ- मुख्यमंत्री भूपेश

Spread the love

  • पटरी पार में फ्लड लाइट स्टेडियम का लोकार्पण करने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, संबोधन में कहा, हमारे युवाओं में प्रतिभा की कमी नहीं, खेल प्रतिभा को बढ़ाने उपलब्ध कराएंगे सभी तरह के संसाधन
  • वासुदेव चंद्राकर जी के नाम पर होगा नवनिर्मित स्टेडियम का नाम
  • क्रिकेटर राजेश चौहान, महापौर देवेंद्र यादव सहित अन्य लोगों को जिन्होंने स्टेडियम को बढ़ाने परिश्रम किया, उन्हें भी मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित
    हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में साढ़े सात करोड़ रुपये के निर्माण कार्यों की स्वीकृति भी दी

    दुर्ग। इस फ्लड लाइट स्टेडियम में बड़ी संख्या में मौजूद युवाओं और खिलाड़ियों को देखकर मुझे बहुत खुशी हो रही है। क्रिकेट में रुचि रखने वाले युवाओं को स्तरीय स्टेडियम मिल जाये तो इससे बेहतर क्या होगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने भिलाई के वार्ड नंबर 26 हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में फ्लड लाइट स्टेडियम के लोकार्पण अवसर पर कही। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में साढ़े सात करोड़ रुपये के विकास कार्यों की स्वीकृति भी दी। उन्होंने कहा कि अब तक जितने स्टेडियम बने, वे पटरी के उस पार थे, ये पहला स्टेडियम है जो पटरी पार है। महापौर निधि से निर्मित यह स्टेडियम यहां के नागरिकों के लिए काफी उपयोगी होगा। उन्होंने कहा कि अच्छा कोच, अच्छी डाइट तथा अधोसंरचना की सुविधा मिल जाये तो खिलाड़ी आश्वस्त हो जाते हैं। इन जरूरतों को पूरा करने प्राधिकरण का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि राजनीति में हमारे कोच वासुदेव चंद्राकर रहे हैं। उनके नाम पर स्टेडियम रखने का सुंदर प्रस्ताव महापौर ने रखा है। मैं इस प्रस्ताव का स्वागत करता हूँ। स्टेडियम का नाम श्री वासुदेव चंद्राकर के नाम पर होगा। उन्होंने कहा कि इस सुंदर स्टेडियम के निर्माण के लिए मैं महापौर श्री देवेंद्र यादव और नगर निगम टीम को बधाई देता हूँ। खेलों की अधोसंरचना को बढ़ाने के लिए उनकी रुचि और समर्पण प्रशंसनीय है। इस मौके पर गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि महापौर श्री देवेंद्र यादव ने महापौर निधि से बहुत अच्छा स्टेडियम बनाया है। अच्छा स्टेडियम होने से और खेलों से संबंधित अधोसंरचना बेहतर होने से स्वाभाविक रूप से खेलों का विकास होता है। अब क्रिकेट खिलाड़ी इस स्टेडियम के माध्यम से खुलकर अपनी प्रतिभा निखार सकते हैं। खेल प्रेमियों के लिए भी यह बड़ी सौगात है। खेलों का बढ़ावा देने से शारीरिक सुदृढ़ता आती है इससे मानसिक सजगता भी दृढ़ होती है। उन्होंने कहा कि पटरी पार की बड़ी आबादी को अब सुंदर, शानदार स्टेडियम सुलभ हो गया है। अब खिलाड़ी खुलकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करें और खेल प्रेमी खुलकर खेल का आनंद लें। उन्होंने कहा कि साल भर में मुख्यमंत्री ने जितनी भी योजनाएं बनाई, उन्हें धरातल पर क्रियान्वित किया। यह योजनाएं पूरे देश के लिए मिसाल बनी हैं। चाहे किसानों की कर्जमाफी हो, या बच्चों के पोषण से संबंधित, हर वर्ग के लोगों की बेहतरी के लिए योजनायें बनाई हैं। उन्होंने कहा कि खेल प्राधिकरण के गठन से युवाओं को प्रतिभा विकास का उचित अवसर उपलब्ध होगा। इस मौके पर महापौर एवं विधायक भिलाई श्री देवेंद्र यादव ने कहा कि इस ग्राउंड से राजेश चौहान जैसे क्रिकेटर निकले हैं यह हमारे लिए गौरव की बात है। मुख्यमंत्री जी इस ग्राउंड में पूर्व में भी आते रहे हैं। अब यह परिसर इतना सुंदर हो गया है इससे मुख्यमंत्री भी प्रसन्न होंगे और हाउसिंग बोर्ड के लोग भी। उन्होंने कहा कि इस स्टेडियम का नाम हम लोग वासुदेव चंद्राकर जी के नाम रखना चाहते हैं। यह निवेदन मैं मुख्यमंत्री के समक्ष रखता हूँ। इस मौके पर दुर्ग विधायक श्री अरुण वोरा पूर्व विधायक श्री प्रदीप चौबे, श्री बदरुद्दीन कुरैशी, श्री भजन सिंह निरंकारी,श्रीमती प्रतिमा चंद्राकर, पूर्व महापौर श्री आर एन वर्मा, सुश्री नीता लोधी, पूर्व क्रिकेटर श्री राजेश चौहान एवं अन्य अतिथि उपस्थित थे। इस मौके पर आईजी श्री विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर श्री अंकित आनंद, एसपी श्री अजय यादव, भिलाई कमिश्नर श्री ऋतुराज रघुवंशी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
    1.37 करोड़ रुपये की लागत से बना स्टेडियम, 10 हजार लोगों के बैठने की क्षमता- यह पटरी पार क्षेत्र का पहला स्टेडियम है। इसका निर्माण 13 सितंबर 2018 को आरम्भ हुआ। 1.37 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित इस स्टेडियम की क्षमता दस हजार लोगों की है। फ्लड लाइट की वजह से युवा देर शाम तक खेलों का आनंद ले सकते हैं।