July 30, 2021

बिहार में 13 जगह छठ पर्व के दौरान डूबने और भगदड़ से जुड़ी घटनाओं में 38 लोगों की मौत

Spread the love

पटना. बिहार में छठ पर्व के दौरान अलग-अलग हादसों में 12 बच्चों समेत 38 लोगों की मौत हो गई। रविवार शाम तक विभिन्न तालाबों और जलाशयों में उगते सूरज को अर्घ्य देने बाद यह पर्व संपन्न हो गया। इनमें सबसे ज्यादा मौतें पुनपुन प्रखंड और भागलपुर में हुईं। भागलपुर के चार प्रखंडों में छह लोग डूब गए। इनमें पांच के शव बरामद कर लिए गए। एक अब भी लापता है। पुनपुन प्रखंड में नहाने के दौरान तीन बच्चों समेत छह की डूबने से जान चली गई। ये सभी हादसे शनिवार से रविवार शाम तक हुए।
खगड़िया और सहरसा में पांच-पांच, पूर्णिया, कटिहार और मधेपुरा में चार-चार और जमुई, सुपौल, अररिया, बांका और लखीसराय में भी एक-एक लोग डूब गए। जबकि, औरंगाबाद में भगदड़ मचने से एक बच्चा और एक बच्ची की मौत हो गई है। 12 बच्चे लापता हैं। करीब 40 लोग जख्मी हो गए। समस्तीपुर में मंदिर की दीवार गिरने से सूर्य को अर्घ्य दे रही दो महिला छठ व्रतियों की मौत हो गई। तीन महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई। भगदड़ में करीब 12 लोग घायल हो गए।