October 19, 2021

आईएस के नए सरगना अल-कुरैशी को मिस्र और बांग्लादेश के आतंकी संगठनों का समर्थन

Spread the love

आईएस से जुड़े नैसर न्यूज ने मिस्र-बांग्लादेश के आंतकियों की तस्वीर जारी की, जिसमें वे नए सरगना को समर्थन देते नजर आ रहे हैं
अमेरिकी कार्रवाई में आईएस सरगना बगदादी के मारे जाने के बाद 31 अक्टूबर को अल-कुरैशी को नया सरगना बनाया गया

बेरुत. मिस्र और बांग्लादेश के आतंकी संगठनों ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के नए सरगना का समर्थन किया है। आईएस की मीडिया शाखा ने शनिवार को ये जानकारी दी। आईएस सरगना अबु बकर अल-बगदादी ने अमेरिकी सेना की कार्रवाई के दौरान खुद को बम से उड़ा लिया था।
आईएस की खबरें देने वाली नैसर न्यूज ने कई तस्वीरें जारी की, जिसमें बांग्लादेश से आए मुट्ठीभर आतंकी और मिस्र का आतंकी संगठन सिनाई के सदस्य आईएस के झंडे के नीचे खड़े होकर नए सरगना अबु इब्राहिम अल-हाशमी अल-कुरैशी के प्रति निष्ठा का वादा करते दिख रहे हैं। उनके चेहरे चेहरे ढंके हुए थे।
ट्रम्प ने 27 अक्टूबर को बगदादी के मारे जाने की पुष्टि की
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 27 अक्टूबर को टीवी पर लाइव प्रसारण के दौरान बगदादी की मौत की पुष्टि की थी। उन्होंने कहा था कि बगदादी ने सेना आते देख अपने ठिकाने के नीचे खुदी सुरंग से भागने की कोशिश की। उसने साथ में अपने तीन बच्चों को भी ले लिया। इस दौरान सैनिकों और मिलिट्री कुत्तों ने उसका पीछा किया। सुरंग में जब उसे रास्ता नहीं मिला, तो उसने खुद की आत्मघाती जैकेट को ब्लास्ट कर लिया। इसमें उसकी और उसके तीनों बच्चों की मौत हो गई। ट्रम्प ने कहा कि विस्फोट में बगदादी का शरीर क्षत-विक्षत हो गया, लेकिन टेस्ट से उसकी पहचान कर ली गई।
आईएस ने 31 अक्टूबर को बगदादी के मारे जाने की पुष्टि की। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, आईएस ने ऑडियो मैसेज में बताया कि अबु इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी को बगदादी के स्थान पर संगठन का नया सरगना बनाया गया है। प्रवक्ता अबु हमजा अल-कुरैशी ने कहा कि आस्था रखने वालों के मुखिया, हमें आपकी मौत का दु:ख है।